राजनीति

Jhiram Ghati : केंद्र में हमारी सरकार बनेगी, उस दिन सब दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा : सीएम

Jhiram Ghati News : दस साल पहले आज ही के दिन नक्सलियों ने बस्तर जिले के झीरम घाटी (Jhiram Ghati ) में खूनी खेल खेलते हुए देश के सबसे बड़े राजनीतिक हत्याकांड को अंजाम दिया था। कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर किए गए हमले में छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व सहित 33 लोगों की नक्सलियों ने निर्ममता से हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड की असली वजह आज भी रहस्य बनी हुई है। इससे जुड़े कई राज आज भी घाटी में ही दफ न होकर रह गए हैं।

आज झीरम (Jhiram Ghati ) हमले की दसवीं वर्षगांठ को कांग्रेस बलिदान दिवस के रूप में मना रही है। झीरम घाटी हमले में शहीद कांग्रेस नेताओं और जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गुरुवार को जगदलपुर पहुंचे। यहां पर शहीदों के परिजनों और उनकी पत्नियों से मुलाकात के बाद भावुक हो गए। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि, जो वार किए गए, वो पूछ रहे हैं, हमको न्याय कब मिलेगा। बस्तर रवाना होने से पूर्व रायपुर में हेलीपैड पर मीडिया से चर्चा करते हुए सीएम भूपेश बघेल ने बीजेपी पर सियासी सवाल दागे। उन्होंने कहा, भाजपा जवाब दे की झीरम (Jhiram Ghati ) हमले को लेकर खूंखार नक्सली राममन्ना और गणपति का नाम एफ आईआर से क्यों हटाया? आयोग की रिपोर्ट राज्य सरकार को न देकर सीधे राज्यपाल को दिया जाता है। जिसके बाद कांग्रेस ने एक जांच आयोग का गठन किया। जिसको रोकने के लिए पूर्व नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने स्टे लगाया। ये वहीं हैं, जो नान घोटाला मामले में भी स्टे लेने जाते हैं। जिस दिन केंद्र में हमारी सरकार बनेगी, उस दिन सब दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।

न हमें जांच करने दे रहे न खुद कर रहे

सीएम ने कहा कि नक्सली रमन्ना और गणपति का नाम एफ आईआर में था। कोर्ट के आदेश पर संपत्ति कुर्क की गई। फिर मई में केंद्र में भाजपा की सरकार बनी, लेकिन सितंबर में इन नक्सलियों के नाम हटा दिए गए। किसके कहने पर ऐसा हुआ, इसकी जांच होनी चाहिए। मुख्यमंत्री बघेल ने केंद्र की भाजपा सरकार पर नक्सली गणपति और रमन्ना को बचाने का आरोप लगाया। कहा कि, अगर वो पकड़े जाते तो सच्चाई सामने आती कि उस षडयंत्र के पीछे कौन लोग हैं। केंद्र की सरकार न तो हमको इसकी जांच हमें कर रही है और न ही खुद जांच कर रही है। षडयंत्रकारियों को बचाने का प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि, जब तक न्याय नही मिलेगा, तब तक लड़ाई जारी रखेंगे। कहा कि, पूरी कांग्रेस पार्टी शहीद परिवारों के साथ है। सभी प्रकार के नक्सलवाद और हिंसा का डटकर सामना करते हुए राज्य को शांति का टापू बनाएंगे।

Live Share Market
 

जवाब जरूर दे 

इंडिया गठबंधन का पीएम दावेदार किसे बनाना चाहिए?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button